-->

Search

C D E F G H I L N O P S U V Z
SDM Full Form In Hindi | जिले में कितने SDM होते हैं ?

SDM Full Form In Hindi | जिले में कितने SDM होते हैं ?

एस डी एम का फुल फॉर्म : दोस्तों आज के हमारे इस आर्टिकल में हम जानेंगे के एसडीएम कौन होता है एसडीएम की फुल फॉर्म क्या है एक जिले में कितने एसडीएम हो सकती है । इसके अलावा हम जानेंगे कि अगर आपको एसडीएम बनना है तो उसके लिए क्या क्या एलिजिबिल्टी है । जैसा कि हम सब जानते ही हैं कि SDM एक सरकारी ऑफिसर होता है । 
sdm full form


SDM की Full Form और SDM कैसे बने ?

यह ऑफिसर हर एक जिले में लगाया जाता है इस ऑफिसर के पास बहुत सारी पावर से होती है । जिनके बारे में आज हम हमारे इस आर्टिकल में चर्चा करेंगे कृपया हमारे आर्टिकल को पूरा जरूर पढ़ें अगर आपको कहीं पर भी कोई मिस्टेक नजर आती है तो हमें कमेंट बॉक्स में जरूर बताएं आपका बहुत बहुत धन्यवाद होगा । 

SDM Ka Full Form In Hindi

चलो दोस्तों सबसे पहले जानते हैं कि एसडीएम होता कौन है और इस का फुल फॉर्म क्या है SDM Ka Full Form होता है Sub Divisional Magistrate जिसे हिंदी में उपप्रभाग्य नान्यधीश भी कहा जाता है । SDM पूरे जिले में एक ही होता है । एसडीएम एक स्टेट लेवल का अधिकारी होता है जिसके बहुत सारे कार्य होते हैं हम आपको हमारे इस आर्टिकल में एसडीएम के कुछ नीचे दिए गए कार्य बताने वाले है । 

SDM के कार्य 

  1. जैसा कि हमने पहले भी हमारे आर्टिकल में बताया है कि पूरे जिले में एक ही एसडीएम होता है इसीलिए उसी अधिकारी के ऊपर पूरे जिले का कार्यभार होता है । एसडीएम के बहुत सारे कार्य होते हैं जिनके बारे में हमने नीचे बताया है । 
  2. पूरे जिले में अगर कोई भी अपनी जमीन खरीदता या बेचता है उसका पूरा रिकॉर्ड एसडीएम के पास होता है एसडीएम की परमिशन के बगैर कोई भी ऐसा कार्य नहीं हो सकता । 
  3. 1 जिले में जितनी भी तहसील पड़ती है उन तहसीलों में काम करने वाले सभी तहसीलदारों के ऊपर एसडीएम का नियंत्रण होता है । 
  4. जिले में होने वाले सभी विवाह का रजिस्ट्रेशन भी एसडीएम ही करवाता है । 
  5. इसके अलावा एसडीएम का कार्य होता है कि अगर किसी ने भी किसी भी तरह का अपना कोई लाइसेंस यारी करवाना है तो उसकी परमिशन भी एसडीएम ऑफिसर ही देता है । 
  6. जिले में राज्यसभा और लोकसभा के सदस्य का चुनाव भी SDM ही करता है । 

SDM कैसे बने ? 

 अब हम आपको बताते हैं कि अगर आप SDM Officer बनना चाहते हैं तो उसके लिए क्वालिफिकेशन क्या होनी चाहिए और इसका एग्जाम कहां पर और कैसे होता है । एसडीएम बनने के लिए आपको पीसीएस का एग्जाम क्लियर करना होता है PCS स्टेट लेवल का एग्जाम होता है । पूरे भारत में जितने भी राज्य हैं । 

सभी राज्यों का अपना अपना पब्लिक सर्विस कमीशन होता है । जैसे के पंजाब का पी पी सी एस हरियाणा का एचपीसीएस ऐसे करके जितने भी राज्य भारत में है।  सभी का अपना अपना पब्लिक सर्विस कमीशन होता है।  इसका पेपर पास करने के बाद ही आप एसडीएम की जॉब पर लग सकते हैं । 

SDM बनने के लिए Qualification

दोस्तों अगर आप SDM बनना चाहते हैं तो उसके लिए आपको किसी भी विषय में ग्रेजुएशन पास होनी जरूरी है।  अगर आपने बीए बीएसई बी कॉम जैसी कोई भी डिग्री हासिल की हुई है।  तो आप एसडीएम की पोस्ट के लिए अप्लाई कर सकते हैं और एसडीएम का एग्जाम पास करने के बाद आप एसडीएम के पद पर लग सकते हैं । 

इसके अलावा जनरल कैटेगरी के लोगों के लिए उम्र की सीमा 21 से 40 वर्ष होती है । इसके अलावा एससी और एसटी कैटेगरी के लोगों के लिए उम्र की सीमा 21 से 45 वर्ष होती है।  इसके अलावा अगर कोई फिजिकल हैंडिकैप्ड है तो उसके लिए उम्र की सीमा 21 से 55 वर्ष होती है । 

SDM के लिए स्लेबस क्या होता है ?

एसडीएम की परीक्षा के लिए 3 चरण होते हैं सबसे पहले आपका प्री एग्जाम होता है।  जिसमें आपको सामान्य ज्ञान से जुड़े सवाल पूछे जाते हैं । इसके बाद आपका मेन एग्जाम होता है अगर आप मेन एग्जाम को भी पास कर देते हैं उसके बाद आपका इंटरव्यू लिया जाता है।  इंटरव्यू को पास करने के बाद आपके टोटल मार्क्स जोड़े जाते हैं।  जिसके आधार पर एसडीएम की पोस्ट के लिए सेलेक्शन होता है । 

Pre Exam : एसडीएम के लिए जो प्री एग्जाम होता है । उसमें आपको दो पेपर आते हैं इनमें आपको सामान्य ज्ञान से जुड़े विषय पर सवाल पूछे जाते हैं । यह दोनों पेपर ऑब्जेक्टिव टाइप होते हैं जिनमें आपको ऑप्शन दिए जाते हैं जिसमें से आपको किसी एक ऑप्शन को चुनना होता है । 

Main Exam : अगर आप Pre Exam को बात करते हैं तो आपको Main Exam के लिए बुलाया जाता है। मेन एग्जाम में 8 प्रश्न पत्र होती है जिनमें Currant Affair, History, Ecnomics, Pilitical,  G.K से संबंधित सवाल पूछे जाते हैं । 

Interview : यह दोनों एग्जाम को पास करने के बाद आपका इंटरव्यू लिया जाता है । इंटरव्यू में आपका व्यवहारिक और मानसिक योग्यता का अंदाजा लगाया जाता है इंटरव्यू लगभग 200 नंबर्स का होता है इंटरव्यू को पास करने के बाद मेरिट निकाली जाती है। इस मेरिट के आधार पर ही एसडीएम की पोस्ट के लिए लड़कों और लड़कियों को चुन लिया जाता है ।

Conclusion

दोस्तों आज के हमारे इस आर्टिकल में आपने सीखा कि ऐसे डीएम की फुल फॉर्म क्या है एसडीएम कैसे बना जाता है। एक जिले में कितने एसडीएम होते हैं हमें उम्मीद है कि हमारे द्वारा की गई सारी जानकारी आपको पसंद आई होगी। अपना कीमती समय देने के लिए आपका बहुत-बहन्यवाद। 

CPU Ka Full Form
VM Ka Full Form